Print
PDF

Convocation Ceremony at DAV College - 29-Mar-2018

डीएवी कॉलेज के ऑडिटोरियम में कॉलेज के वार्षिक दीक्षांत समारोह का आयोजन किया गया, जिसमें मुख्यातिथि डॉ. आर.एस. शर्मा मुख्य सचिव, डीएवी (नई दिल्ली) उपस्थित हुए।

इस मौके पर लोकल समिति के प्रेजिडेंट रिटायर्ड जस्टिस एन.के. सूद, पूर्व अध्यक्ष कुंदन लाल अग्रवाल, लोकल मैनेजमेंट से अरविंद घई, पूर्व डायरेक्टर कॉलेजेस डॉ. एम.एल. ऐरी, प्रिंसिपल डॉ. एस.के. अरोड़ा, वाईस प्रिंसिपल प्रो विजय सरीन, प्रो टी.डी. सैनी, रजिस्ट्रार प्रो. अरुण मेहरा, स्थानीय सलाहकार समिति के सदस्यों प्रो. कमलदीप, डॉ मनु सूद, स्टाफ सेक्रेटरी प्रो. शरद मनोचा  पब्लिक  रिलेशंस अफसर प्रो. मनीष खन्ना ने मुख्यातिथि का स्वागत किया।

इस दीक्षांत समारोह में 1144 छात्रों और छात्राओं को डिग्री दी गई, जिसमें से 500 के करीब कॉमर्स ग्रेजुएट थे और पोस्ट ग्रेजुएट थे। मुख्य मेहमान डॉ. आर.एस. शर्मा द्वारा कॉलेज के शताब्दी वर्ष को समर्पित 'सेंटेनरी सेमिनार हॉल' का उद्धघाटन भी किया।  समारोह का शुभारंभ डॉ. शर्मा, प्रिंसिपल डॉ. अरोड़ा, स्थानीय मैनेजिंग कमेटी के अध्यक्ष तथा मौजूद अन्य गणमान्यों द्वारा ज्योति प्रज्वलन से हुआ।  इस मौके पर प्रिंसिपल डॉ. एस.के. अरोड़ा ने आए हुए सभी गणमान्य अतिथियों का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि डॉ. आर.एस. शर्मा का इस दीक्षांत समारोह का मुख्य मेहमान के रूप में आना हमारे लिए अत्यंत सौभाग्य की बात है। उन्होंने डॉ. आर.एस. शर्मा के बारे में बताते हुए कहा कि डॉ. शर्मा डीएवी मैनेजिंग कमेटी, नई दिल्ली के जनरल सेक्रेटरी हैं। इसके इलावा वो कॉलेज के भूतपूर्व प्रिंसिपल भी रह चुके हैं। इनकी प्रेरणा के कारण ही आज यह कॉलेज पूरे भारत में अपनी उच्च शिक्षा के लिए जाना जाता है।  

इस दौरान मुख्यातिथि डॉ. आर.एस. शर्मा ने विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए उन्हें शुभकामनाएं दीं। "उन्होंने कहा कि आप सब अपनी कड़ी मेहनत से डिग्री को प्राप्त करने में सक्षम रहे हैं। उन्होंने कहा कि इससे पहले भी कई स्थानों पर दीक्षांत समारोह में जाने का अवसर मिला है लेकिन डीएवी कॉलेज की शताब्‍दी के समय दीक्षांत समारोह में जाने के मायने कुछ अलग ही हैं। डॉ. शर्मा ने आगे अपनी बात को जारी रखते हुए कहा कि एक शताब्‍दी में लाखों विद्यार्थी यहां से निकले हैं। इन विद्यार्थियों ने गत 100 वर्ष के दरमियान जीवन के किसी न किसी क्षेत्र में जाकर अपना योगदान दिया है। उन्होंने कहा कि आज भी जो विद्यार्थी इस कॉलेज पढ़कर गए हैं उन्होंने अपने जीवन नई बुलंदियों को छुआ है।"

इस दौरान कंप्यूटर विभाग की  प्रोफेसर डॉ. कंवलजीत कौर को भी उनके शोध और पीएचडी की डिग्री प्राप्त होने पर सम्मानित गया। इस अवसर पर मंच का संचालन प्रो. शरद मनोचा द्वारा किया गया और वोट ऑफ थैंक्स प्रो. एस. एस. रंधावा द्वारा किया गया। अंत में राष्ट्रगान से समारोह का समापन हुआ।

इस दौरान विशेष रूप से आमंत्रित सिंगापुर से कॉलेज के अलम्नाई आर.के गुप्ता, प्रिंसिपल रविंदर शर्मा, एस.पी सहदेव, प्रिंसिपल मनोज अरोड़ा (डेवीएट) प्रिंसिपल सी.एल कोछड़, प्रिंसिपल अजय सरीन, प्रिंसिपल नवजोत कौर, प्रिंसिपल डॉ. ए.एल सांगल, प्रिंसिपल राज कुमार सहगल और कॉलेज का समूह टीचिंग तथा नॉन टीचिंग स्टाफ़ भी इस समारोह में शामिल था।